aaiye maiyan ke dar jhandevali ke dar

दुनिया में जिसका न हो कोई घर.
आये मईया के दर झण्डेवाली के दर,

आंचल में तुझको छुपा लेगी माँ,
तुझे हर दुःख से बचा लेगी माँ,
फिर न रहे गी तुझे चिंता फ़िक्र,
आये मईया के दर झण्डेवाली के दर

दुनिया के रिश्ते तो दे ते है दुःख,
मैं के चरणों में मिलता है सुख,
जो चाहो मिलता है मैया के दर,
आये मईया के दर झण्डेवाली के दर

माँ की तो ममता सब से महान है,
देवता भी करते इसका ध्यान है,
शिव का दास कहता झुका लो अपना सिर,
आये मईया के दर झण्डेवाली के दर

Leave a Comment