मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे…..
तुम हो करुणा की सागर बहो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

आँख खोलूं तो ऊँची अटारी दिखे…..
आँख मुंदु तो श्यामा जु प्यारी दिखे…..
तेरी करुणा के रस में बहुं लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

मेरे भावों को कर देना सांचो प्रिये…..
मेरी जिव्हा पे नाम बन नाचो प्रिये…..
रस की सागर हो तुम अब रसो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

भाव में कैसे डूबूं बता दीजिये…..
प्रेम होता है क्या ये सीखा दीजिये…..
मैं रुदन में रहूं तुम हंसो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

नाम ऐसा जपूँ मुझमे आवेश हो…..
तेरी लीला में मेरा भी परवेश हो…..
हरिदासी की हालत लखो लाड़ली…..

फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे…..
तुम हो करुणा की सागर बहो लाड़ली…..
फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे।।

राधामीराबाई भजन लिरिक्स-पी-पेज.कॉम इंग्लिश में हिंदी में भजन् लिरिक्स

mere chintan mein aake baso laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe…..
tum ho karuna kee saagar baho laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

aankh kholoon to oonchee ataaree dikhe…..
aankh mundu to shyaama ju pyaaree dikhe…..
teree karuna ke ras mein bahun laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

mere bhaavon ko kar dena saancho priye…..
meree jivha pe naam ban naacho priye…..
ras kee saagar ho tum ab raso laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

bhaav mein kaise dooboon bata deejiye…..
prem hota hai kya ye seekha deejiye…..
main rudan mein rahoon tum hanso laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

naam aisa japoon mujhame aavesh ho…..
teree leela mein mera bhee paravesh ho…..
haridaasee kee haalat lakho laadalee…..

phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

mere chintan mein aake baso laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe…..
tum ho karuna kee saagar baho laadalee…..
phir bhale kuchh bhee dena na dena mujhe..

SHRI RADHA GOLF

मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे | 5.2.2022 | गोवर्धन | @Bansuri
स्वर : साध्वी पूर्णिमा दीदी।
मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे | Superhit Radha Rani Ji Bhajan | Mere Chintan Mein Aa Kar Baso Ladli | Phir Bhale Kuch Bhi Dena Na Dena Mujhe एक बार अवश्य सुनें बृज रस अनुरागी पूनम दीदी जी की मधुर वाणी में आनन्द आयेगा ! #poonamdidi #sadhvipurnimaji #bansuri

❤ भक्ति पूर्ण गानों के लिए क्लिक करें : https://goo.gl/me43MG
☛ Video Name: मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे
☛ Singer Name: बृज रस अनुरागी पूनम दीदी (Sadhvi Purnima Ji)
© Copyright: @Bansuri (बाँसुरी)

If You are Enjoying Our Videos Then Please Share Our Videos With Your Facebook….. Twitter….. And Other Social Media Accounts…

sadhvipurnima #poornimasadhvi #sadhvipoornima #purnimadidi #poornimadidi #krishnabhajan #radhakrishan #vrindavan #sadhvipurnima #gopal #madangopal #bankebihari #murlidhar #bansuri #makhanchor #shyambhajan #newkrishnabhajan #mathura

Watch “मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे” by बाँसुरी

मेरे चिंतन में आके बसो लाड़ली फिर भले कुछ भी देना ना देना मुझे | बृज रस अनुरागी पूनम दीदी | 5.2.2022 | आश्रम श्री रसिक शरणम श्री गोवर्धन धाम | #बाँसुरी