जहाॅ राम है, सच वही, बाकी जगत इक सपना रे,

बिना राम रघुनंदन के, कोई नहीं है अपना रे,
जहाॅ राम है, सच वही, बाकी जगत इक सपना रे,
सदा राम रहे राज़ी मुझसे, कर्म वही मुझे करना है,
जहां धर्म है राम वही , मोहे राम डगर ही चलना है,
बोलो राम, जय सिया राम, जय रघुनंदन जय जय राम…


राम की करुणा किरपा है, जो अब तक मुझे संभाले है,
यदा कदा नहीं सर्वदा, संकट से राम निकाले है,
हैँ राम मेरे और राम का मै, बाकी फ़िकर क्या करना रे,
जहाँ राम है सुख वहीं, दुख मे भी राम को भजना रे…

राम की हर इक आदत जब आदत मेरी बन जाएगी,
उस दिन जगत में राम कसम, हर बात मेरी बन जाएगी,
माया पति जब पास मेरे, माया को क्या तरसना रे,
जहां राम है, यश वही, जीवन की मधुर हर रसना रे…

सतयुग था वो ये कलयुग है, यहाँ राम से ज्यादा रावण है,
रहे आज भी  महल मे रावन, राम भटकते वन वन है,
जीत अटल है राम की, रावण को पडेगा मरना रे,
जहाँ राम है मुक्ति वहीं, भव राम सहारे तरना रे…

बिना राम रघुनंदन के, कोई नहीं है अपना रे,
जहाॅ राम है, सच वही, बाकी जगत इक सपना रे,
सदा राम रहे राज़ी मुझसे, कर्म वही मुझे करना है,
जहां धर्म है राम वही , मोहे राम डगर ही चलना है,
बोलो राम, जय सिया राम, जय रघुनंदन जय जय राम…

bina ram rghunandan ke, koi nahi hai apana re,

bina ram rghunandan ke, koi nahi hai apana re,
jahaaai ram hai, sch vahi, baaki jagat ik sapana re,
sada ram rahe raazi mujhase, karm vahi mujhe karana hai,
jahaan dharm hai ram vahi , mohe ram dagar hi chalana hai,
bolo ram, jay siya ram, jay rghunandan jay jay ram…


ram ki karuna kirapa hai, jo ab tak mujhe sanbhaale hai,
yada kada nahi sarvada, sankat se ram nikaale hai,
hain ram mere aur ram ka mai, baaki pahikar kya karana re,
jahaan ram hai sukh vaheen, dukh me bhi ram ko bhajana re…

ram ki har ik aadat jab aadat meri ban jaaegi,
us din jagat me ram kasam, har baat meri ban jaaegi,
maaya pati jab paas mere, maaya ko kya tarasana re,
jahaan ram hai, ysh vahi, jeevan ki mdhur har rasana re…

satayug tha vo ye kalayug hai, yahaan ram se jyaada raavan hai,
rahe aaj bhi  mahal me raavan, ram bhatakate van van hai,
jeet atal hai ram ki, raavan ko padega marana re,
jahaan ram hai mukti vaheen, bhav ram sahaare tarana re…

bina ram rghunandan ke, koi nahi hai apana re,
jahaaai ram hai, sch vahi, baaki jagat ik sapana re,
sada ram rahe raazi mujhase, karm vahi mujhe karana hai,
jahaan dharm hai ram vahi , mohe ram dagar hi chalana hai,
bolo ram, jay siya ram, jay rghunandan jay jay ram…

Watch Bhajan Video jahaaai ram hai, sch vahi,



Leave a Reply