आप का शुक्रिया आप का करम,
हम को सबसे हसी तेरा दर मिल गया,
मिल गये श्याम मुझको तो सब कुछ मिला,
मुझको अब और किसी की जरूत नही,
आप का शुक्रिया आप का करम,
हम को सबसे हसी तेरा दर मिल गया,

श्याम है रूह बरु हो गया श्याम से आमना सामना,
मुझको अब और किसी की जरुरुत नही,
श्याम बाबा का जब से ये दर मिल गया,
आप का शुक्रिया आप का करम,
हम को सबसे हसी तेरा दर मिल गया,

श्याम बाबा के हम को मिले लाडले,
फिर तो हिमत बड़ी और बड़े होंसले,
अब किसी की जरुरत नही है हमे,
जब हमे आप का आसरा मिल गया,
आप का शुक्रिया आप का करम,
हम को सबसे हसी तेरा दर मिल गया,

दर नही मुझको तूफ़ान का इस लिए,
डाल दी मैंने कश्ती मजधार में,
काँप जाएगा तूफ़ान इसे देख कर,
श्याम बाबा का जैसा खिवैयाँ मिला,
आप का शुक्रिया आप का करम,
हम को सबसे हसी तेरा दर मिल गया,

Leave a Reply