bhoot pitaash nikat naa aawe o maharo bala ji baba ko jab soto chaale

भूत पिचास निकट न आवे,
ओ महारो बाला जी बाबा को जब सोटो चाले,
जय बाला जी जय बाला जी,

राम को है सेवक सब को है प्यारो,
दोड़ो चलो आवे जब जब भी पुकारो,
भक्ता के घर में ना टोटो चाले,
महारो बाला जी बाबा को जब सोटो चाले,
जय बाला जी जय बाला जी,

खाली नहीं जावे किसी की भी याहा अर्जी,
इसके भवन चाले भक्ता की मर्जी,
इसी की तू अर्जी को खोटो चाले,
महारो बाला जी बाबा को जब सोटो चाले,
जय बाला जी जय बाला जी,

इस के भवन सब इक बराबर,
शर्मा यकीन ना हो देख लो आकर,
याहा नहीं मोटो और छोटो चाले,
महारो बाला जी बाबा को जब सोटो चाले,
जय बाला जी जय बाला जी,

Leave a Comment